Breakup Shayari in Hindi | ब्रेकअप शायरी हिंदी

Breakup Shayari in Hindi | ब्रेकअप शायरी हिंदी 


घर बना कर मेरे दिल में वो चली गई है, 
ना खुद रहती है और ना किसी और को बसने देती है


घर बना कर मेरे दिल में वो चली गई है, 
ना खुद रहती है और ना किसी और को बसने देती है !!


न जाने किस के रंग में रंगी होगी वो आज, 
दिल यही सोच के जल जाता है !!


घर बना कर मेरे दिल में वो चली गई है, 
ना खुद रहती है और ना किसी और को बसने देती है !!


#___किसी__की_दुनिया_से_कोई_मतलब_नही 
#___खुद__के___दुनिया___के__राजा_है__हम!!
  



न जाने किस के रंग में रंगी होगी वो आज, 
दिल यही सोच के जल जाता है !!


मेरा दिल‬ 👦❤ ‪तोड़ने‬ 💔 से ‪पहले‬ ☝‪मेरे दोस्तो‬ 👬 के तरफ ‪ देख लेना‬ 👀 ‪‎जानेमन‬,💃‪कहीं ऐसा‬ ☝ना हो बिन ‪पैरों घुंघरु‬ 💃 ‪मुजरा‬ करना ‪‎पड़े‬ ।। 😡💃

 
bhulna chahti hu lekin bhul nhi pati
tum se din suru tumse hi  rat ktm 
ilu koi to upay btao kaise rhe hm tere bin


हम रोज उदास होते है और शाम गुजर जाती है, 
किसी रोज शाम उदास होगी और हम गुजर जायेंग ! 


न मिले किसी का साथ तो हमें याद करना,
तन्हाई महसूस हो तो हमें याद करना,
खुशियाँ बाटने के लियें दोस्त हजारो रखना,
जब ग़म बांटना हो तो हमें याद करना।
🌸🌸🌸🌸☘️🌸☘️🌸🌸  
 

Breakup Shayari in Hindi


बहाना क्यूँ तलाश करते हो रूठ जाने का, 
बस इतना कह देते की दिल में जगह नहीं है !!


तेरे रोने का कोई फायदा नहीं ए दोस्त,
हसीन लोग अक्सर बे-दर्द हुवा करते है !! 


तुमने समझा ही नहीं…और ना समझना चाहा,
हम चाहते ही क्या थे तुमसे… तुम्हारे सिवा
 😢 😭


*╔═══❖•ೋ° °ೋ•❖═══╗*
कमबख्त🤨 सिगरेट🚬 पीना कोन😷 चाहता 💨है आज🤔 भी इसी ☄️ उम्मीद 😏में सिगरेट🚬 पीता हूं💔 कि सीने😍 में दबी🥱🖕 उसकी👸 सारी यादों 😍को जला 🔥सकू
*╚═══❖•ೋ° °ೋ•❖═══╝*



रात भर गिरते रहे उनके दामन में मेरे आँसू,
सुबह उठते ही वो बोले कल रात बारिश गजब की थी !! 


लौट जाती है दुनिया गम हमारा देख कर;
जैसे लौट जाती हैं लहरें किनारा देखकर;
तुम कंधा ना देना मेरे जनाज़े को;
कहीं फिर से ज़िंदा ना हो जाऊँ तेरा सहारा देखक ! 


जिसमें तू नहीं वो मेरी तमन्ना अधूरी है तू जो मिल जाएं तो जिंदगी पूरी है तेरे साथ जुड़ी है मेरी खुशियां बाकी सबके साथ हंसना तो मेरी मजबूरी है !!
🌸🌸🌸🌸😔  
 
 
👉 भरोसा उस पर करो
     जो आपके अंदर तीन
        बातें जान सके...!

👉मुस्कुराहट के पीछे दुःख,
        गुस्से के पीछे प्यार,
    चुप रहने के पीछे वजह।।

   


बहोत तकलीफ देती है न मेरी बाते तुम्हे, 
देख लेना एक दिन मेरी ख़ामोशी तुम्हे रुला देगी !! 


उसका प्यार भी आवारा बादल निकला, 
गरजा कहीं और बरसा कहीं और !! 


लोग चुराने लगे है स्टेटस मेरे, 
गुजारिश है की गम भी चुरा लो !! 
 


वो मोहब्बत भी तेरी थी वो नफरत भी तेरी थी।
वो अपनाने और ठुकराने की हर अदा भी तेरी थी।
हम अपनी वफा का इंसाफ माँगते भी तो कैसे।
वो शहर भी तेरा था वो अदालत भी तेरी थी llll


मेरी.........वफ़ा.........की.......कदर.......ना......की.....

अपनी........पसंद.......पे......तो........ऐतबार......किया........होता........
सुना.......है.......वो......उसकी.......भी......ना......हुई.....

मुझे......छोड......दिया.......था......उसे.......तो......अपना.......लिया......होता......


Dil ka rishta bada hi pyara h
kitna pagal ye Dil humara h 


मौत को देखा तो नहीं पर शायद वो बहुत खूबसूरत होगी, 
कम्बख़त जो भी उससे मिलता है, जीना छोड़ देता है !                                                    


"👉👉 मुझे #छोड़कर वो #खुश हे,
 तो #शिकायत केसी! 
👉 ओर अब में उसे #खुश भी न
 #देख सकूं , तो #मोहब्बत केसी!!
👉🏻 👫 LovE YoU 


हम अकेले ही ठीक है,
नहीं चाहिये हमें किसी
मोहब्बत की भीख !! 


भुला देंगे तुमको ज़रा सब्र तो कीजिये,
आपकी तरह मतलबी बनने में थोड़ा वक़्त तो लगेगा हमें।
 💔 😭 


हां और ना दोनों एक ही शब्द है, 
जिन्हे जवाब मिला वो बर्बाद ही हुआ है !! 


नहीं करेगे आज के बाद कभी मन्नते तुम्हारी, 
खुदा जब राजी होगा तब तुम तो क्या हर चीज़ मेरी होगी !! 


उदासियां इश्क़ की पहचान हैं ...
मुस्कुरा दिए तो इश्क़ बुरा मान जायेगा ....💔💔 


🌹🌹😥😰😕😐😳😞🌹🌷
तेरा दिल उदास क्यों है?
तेरी आँखों में प्यास क्यों है?
जो छोड़ गया तुझे मझदार में ,
उससे मिलने की आस क्यों है ?
जो दे गया दर्द ज़िन्दगी भर का,
वही तेरे लिए ख़ास क्यों है ??
🌹🌹😥😰😕😐😳😞🌹🌷
 


चलो हम उजङे शहर के शहजादे ही सही, 
मगर तुम्हारी आँखे बताती है विरान तुम भी हो !! 



​कहाँ से ​लाऊ हुनर उसे मनाने का​
​ कोई जवाब नहीं था उसके रूठ जाने का​
​ मोहब्बत में सजा मुझे ही मिलनी थी​
​ क्यूंकी जुर्म मैंने किया ​था ​उससे दिल लगाने का​।
 💔 💔 😭


कदम यूँ ही डगमगा गए रास्ते में
 वैसे संभालना हम भी जानते थे
 ठोकर भी लगी तो उसी पत्थर से
 जिसे हम अपना मानते थे।
 😭 💔 😢


jab sachi muhobaat karne wale log kisi wajah se bichhad te hai ya Mar jate hai to use unki muhobaat khatam nhi hoti muhobaat to zinda hoti hai aur muhobaat karne wale bhi bs wo duniya se apna chera chupa lete hai jo kabhi dikhai nhi dete pr mehesus hote hai 



क्यूँ हर बात में कोसते हो तुम लोग नसीब को,
क्या नसीब ने कहा था की मोहब्बत कर लो !!

Post a Comment

0 Comments